Moral Story

एक शहर में एक ताला-चाभी बनाने की factory  थी जहाँ पर हर तरह के ताले और चाभी बनाये जाते थे।

चाभी को बनाने के लिये और किसी ताले को तोड़ने के लिये, चाभी बनाने वाला एक हथौड़े के इस्तेमाल करता था, जो कि बहुत शक्तिशाली और मजबूत होता है, आपको पता ही होगा।

हथौड़े ने एक दिन देखा कि जिस ताले को तोड़ने के लिये उसे बहुत मेहनत और शक्ति का प्रयोग करना पड़ता है, एक छोटी सी चाभी उसे बड़ी आसानी से खोल देती है।

ये बात हथौड़े को कुछ समझ नहीं आ रही थी।

और उसने एक दिन चाभी से पूछा, कि जिस ताले को तोड़ने के लिये मुझे इतनी ताकत लगानी पड़ती है, इतनी मेहनत करनी पड़ती है, उसे तुम इतनी से कैसे खोल देती हो।

चाभी ने हँसकर जवाब दिया कि तुम उसे खोलने के लिये अपनी ताकत और बल का प्रयोग करके जबरदस्ती खोलने की कोशिश करते हो, लेकिन मैं उसके अंतरात्मा में जाकर विनम्र भाव से निवेदन एवम्‌ विनंती करके खोलने की कोशिश करती हूँ, और इसीलिये वो मुझसे बड़ी आसानी से खुल जाता है।

सीख: सबसे दया-भाव से पेश आयें (Be Kind to Everyone)

इस कहानी से हमें ये सीख मिलती है कि आप चाहे जितना भी ताकतवर क्यों न हो, आप जिस काम को प्यार और विनम्रता से करा सकते हो वो आप अपनी शक्ति और बल से कभी नहीं करा सकते।

Today's Special Discounted Deals

You may also like...