Moral Story

एक गांव में एक लड़का रहता था जो बहुत गरीब था, वो इतना गरीब था कि अगर वो एक दिन मेहनत-मज़दूरी नहीं करता तो उसे भूखे पेट ही सोना पड़ता।

एक दिन उसने अखबार में देखा कि किसी कम्पनी में सिक्यूरिटी गार्ड (security guard) की पोस्ट के लिये जगह खाली है और उसने इस नौकरी के लिये apply कर दिया।

उसको इंटरव्यू (interview) के लिये बुलाया गया और सब उससे बहुत खु़श हुए और उसकी नौकरी पक्की करने से पहले एक उनमें से एक इंटरव्यूवर (interviewer) ने उससे पूछा कि तुम्हारी email id क्या है।

लड़के ने कहा सर मेरे पास email id नहीं है। इंटरव्यूवर (interviewer) बोला इस मॉडर्न जमाने में दुनिया कहां से कहां पहुँच गयी और तुम्हारे पास email id नहीं है, हम तुम्हें ये नौकरी नहीं दे सकते।

वो लड़का वहा से निराश हो गया और बाहर निकल आया, बाहर निकलकर उसने अपने जेब में हाथ डाला तो उसे पता चला कि उसके पास 100 रुपये पड़े है और वो सोचने लगा कि इस 100 रुपये का अब मैं क्या करूँ कहां खर्च करूँ।

सोचते-सोचते उसके दिमाग में एक idea आया और उसने उस 100 रुपये का बाज़ार से 2 किलो सेब खरीद लिया और घर-घर जाकर बेचने लगा, सेब बेचकर उस दिन उसे 50 रुपये का फायदा हुआ।

लड़के को ये काम अछा लगा और अब वो रोज बाजार से सेब खरीदकर घर-घर जाकर बेचने लगा।

कुछ दिन उसने खुदकी एक दुकान खरीद ली और सेब बेचने लगा, जैसे ही एक दुकान अच्छे से चल गयी तैसे उसने दूसरी दुकान खोल दी और ऐसे करते करते उसने एक कंपनी खड़ी कर दी जो हर जगह सेब सप्लाई करने का काम करती थी। और वो अब एक बड़ी कंपनी के साथ एक बड़ा अदमी बन गया।

एक दिन कुछ न्यूज वाले उसका इंटरव्यूव (interview) ले रहे थे और इंटरव्यूव के अंत में न्यूज वालो ने पुछा सर क्या आप अपनी email id हमें दे सकते हैं।

उसने कहा मेरी कोई email id नहीं है। एक न्यूज़ वाले ने पूछा सर आपकी इतनी बड़ी कम्पनी है, क्या आपको कभी email id कि जरूरत नहीं पड़ती, उसने जवाब दिया कि अगर मेरे पास email id होती तो आज ये इतनी बड़ी कंपनी नहीं होती।

सीख:

दोस्तों इस कहनी से हमें ये सीख मिलती है कि इस दुनिया में हर किसी कि अपनी एक अलग personality होती है, सब में कुछ न कुछ खास होता है। फर्क बस इतना सा है कि कुछ लोग अपनी skills और टैलेंट को पहचान लेते हैं और कुछ अपनी skills और talent को पहचानने के बजाय उनको कोपी करने लगते हैं।

और जब उनके जैसा नहीं बन पाते तो खुदको और खुद्की क़िस्मत को कोसते हैं।

इसीलिये किसी को कॉपी करने की बजाय खुद को पहचानो कि तुम क्या कर सकते हो, तुम्हारी क्षमता (potential) किसमें है और जीवन में तरक्की करो।

Today's Special Discounted Deals

You may also like...