Funny & Motivational Story

बहूत समय पहले की बात है, एक जंगल में बहतु हिरण रहते थे और यह जंगल को सबसे अनोखा और प्रसिद्ध बनाता था ।

कुछ समय के बाद उस जंगल पर एक शिकारी की नजर उन हिरनों पर पड़ी और धीरे धीरे उन सारे हिरनों को पकड़ने लगा । देखते ही देखते उस जंगल में हिरनों की संख्या कम होने लगी ।

इन परिस्थितियों को देखकर हिरनों के राजा को बहुत दुःख हुआ और राजा सोचने लगा

“ऐसे ही अगर शिकारी एक-एक करके सब हिरनों को पकड़ेगा तो एक दिन तो सारे हिरण खत्म हो जायेंगे, इस समस्या का कुछ तो उपाय सोचना पड़ेगा  ”

जंगल के पास एक गाँव था ववहा पर एक साधू बाबा थे, तो राजा उस साधू बाबा के पास गया और को अपनी परेशानी बताई ।

साधू बाबा ने उत्तर में राजा को यह अपने सभी साथियों को बात बोलने को बोला की “शिकारी जंगल मै आयेगा और जाल डालेगा मगर जाल में फंसना मत”

राजा ने बात को जाके अपने सभी हिरनों को बताई की “शिकारी जंगल मै आयेगा और जाल डालेगा मगर जाल में फंसना मत”

राजा ने सभी हिरनों को ये बात दोहराने को बोला की,

“शिकारी जंगल मै आयेगा और जाल डालेगा मगर जाल में फसना मत”

सभी हिरनों ने ये बात को सुना और दोहराने लग गए । सभी हिरण खाते पीते उसी बात को ही दोहराते थे।

शिकारी फिरसे आया और ये सब होते हुए शिकारीने देखा और चिंतित हो गया । सभी हिरण एक ही बात को रोज दोहराते हुए देखके वह चिन्तित होके जाल ही नहीं डाल पाता था ।

शिकारी का पूरा जीवन उसके शिकार पर ही निर्भर था और अगर शिकारी हिरनों को पकड़ नहीं पाया तो पैसे कमा सकेगा और उसका जीवन यापन केसे होगा ?

उसी चिंता को लेके शिकारी उसी गाँव के वही साधू के पास गया और बोला की “बाबा सभी हिरण वह बात दोहराते है और मै जाल डाल नहीं पाता और शिकार भी नहीं कर पाता

साधू बाबा ने जवाब देते हुए कहा की ”हिरनों को उनका काम करने दो और तुम जाल डालने का काम करो, चिंतित मत हो जिसका जो काम है वो करो ।”

शिकारी ने साधू बाबा की बात मान के जंगल में जाल बिछा दिया ? आपको क्या लगता है सब हिरण जाल मै फस गए होंगे या नहीं ?

आश्चर्य की बात ये हें की सारे हिरण उस जाल मै फस गये । एसा होते हुए देखके शिकारी फिरसे चिंतित हो गया और फिरसे साधू बाबा की ओर चला गया ।

शिकारी ने साधू बाबा को बोला की

“सभी हिरणों को पता था की मै जाल डालूँगा, लेकिन फिर भी सारे हिरण क्यों फस गये?”

और साधू ने मुस्कुराते हुए बोला की

“हिरणों ने मेरी बात को सिर्फ सुना और दोहराते रहे, परंतु कभी अमल करने की कोशिश नहीं की ”

Moral:

इस कहानी से हमें यह सिख मिलती है की हमें उन हिरणों के जेसा न बनके सारे सकारात्मक विचारो को अपने जीवन मै उतारना चाहिए ।

Today's Special Discounted Deals

You may also like...