Funny Story

एक बार एक बूढी अम्मा रात के समय में अपने घर के बहार एक road पर जलती हुयी लाइट के नीचे कुछ ढूंढ रही थी।तभी एक गांव वाला वहा से गुजर रहा था।उसने ने उस बुढ़िया से पूछा “अम्मा इतनी अँधेरी रात को road के लाइट के नीचे क्या ढूंढ रही हो?”

बूढी अम्मा बोली “कुछ नहीं बेटा बस मेरी सूई गुम हो गयी है,बस वही ढूंढ रही हूँ।

फिर क्या था वह आदमी भी उस अम्मा की मदद में लग गया।वह भी उसके साथ सुई ढूंढने में लग गया।कुछ देर में कुछ और गांव वाले आये और इस खोज अभियान में वह भी शामिल हो गये।देखते ही देखते पूरा गाँव वह सुई ढूंढने में लग गया।

सभी बड़े ध्यान से सुई ढूंढने में लगे थे तभी एक व्यक्ति से बूढी अम्मा से पूछा “अम्मा ये तो बताओ सुई गिरी थी कहा?”

बूढ़ी अम्मा बोली “बेटा, सुई तो झोपड़ी के अंदर गिरी थी।”

यह सब सुनते ही सब बड़े क्रोदित हो उठे।और ऊँचे स्वर में एक व्यकति ने कहा “अम्मा कमाल करती हो।हम इतनी देर से यहाँ सुई ढूंढ रहे है जबकि सुई गिरी थी झोपड़ी के अंदर, आखरी सुई वहा खोजने की बजाये यहाँ क्यों खोज रही हो?”

बुढ़िया ने उत्तर दिया “क्योंकि बाहर लाइट जल रही है।”

 
 


You may also like...