फनी शायरी

लैला की शादी में एक लफड़ा हो गया,
मजनू इतना नाचा कि लँगड़ा हो गया।

————————————-

न तू छत पे आती न मैं दीवाना होता,
न तू पत्थर मारती न मैं काना होता।

————————————-

जिनको हम चुनते हैं, वो ही हमें धुनते हैं,
चाहे बीवी हो या नेता, दोनों कहाँ सुनते हैं!!

————————————-

यारो मेरे मरने के बाद आँसू मत बहाना,
ज़्यादा याद आए तो उपर ही चले आना।

Today's Special Discounted Deals

You may also like...