मजेदार जोक्स

आजकल के बच्चे कम नंबर लाने पर जान देने के बारे में सोचने लगते हैं….
एक हमारा टाइम था। जब हमारे नंबर देखकर मास्टरसाहब की इच्छा जान देने की होती थी।
—–
आज भी बहुत से घरों में खाना खाते वक्त अगर बच्चे के हाथ से पानी गिर जाता है तो…
पोछा बाद में जाता है। पहले बच्चे को धोया जाता है।

नहीं पापा, मैं तो बस आराम से सो रहा था…

पिताजी : क्यों रो रहे हो बेटा?
पप्पू : टीचर ने मारा…
पिताजी : तुमने ही कुछ गलती की होगी
पप्पू : नहीं पापा, मैं तो बस आराम से सो रहा था…
—-
अगर आप चाहते हैं कि आपकी तोंद छोटी दिखे तो… 
हमेशा अपने से बड़ी तोंद वाले आदमी के साथ घूमिए। 

मैं जेट एयरवेज में पायलट था..???

सवारी-: कैसे ड्राइवर हो.. 
ठीक से ऑटो चलाना भी नहीं आता.? 
ऑटो वाला- सॉरी मैडम आज ही आया हूं.. 
मैं जेट एयरवेज में पायलट था..???

डॉक्टर ने मरीज को रोजाना दस किलोमीटर चलने को कहा 
साल भर बाद मरीज ने डॉक्टर को फोन किया 
“अफगानिस्तान पहुंच गया हूं, यहीं रुक जाऊं या रूस की तरफ निकल जाऊं”

कभी इतिहास से  छेड़छाड़ नहीं करता था….

स्कूल में परीक्षा के समय 
इतिहास के पेपर में
जो सवाल नहीं आता था 
उसको खली छोड़ देता था…
लेकिन 
गलत लिख के 
कभी इतिहास से 
छेड़छाड़ नहीं करता था….

निरमा वाली तीन औरतों का…

पप्पु की गाड़ी कीचड मे फँस गई…
टप्पु: क्या हुआ पप्पु…??
पप्पु: गाड़ी फँस गई यार अब इंतजार 
कर रहा हूँ…!!!
टप्पु:  किसका…???
पप्पु: निरमा वाली तीन औरतों का…
__________
मैडम, बच्चे से: तेरी कॉपी और पेन कहाँ है…??
बच्चा: मेम जबसे आपको देखा, क्या कॉपी और क्या पेन,
तेरे मस्त-मस्त दो नैन, मेरे दिल का ले गये चैन, 
खो गई कॉपी, गुम गया पेन… 

You may also like...